महर्षि विद्या मंदिर में बच्चों को मिलेगी नि:शुल्क शिक्षा

  • महर्षि वेद विज्ञान विद्यापीठ द्वारा नि:शुल्क महर्षि विद्या मंदिर का संचालन जल्द शुरू होगा
  • अयोध्या में खाले का पुरवा में विद्यालय की स्थापना के लिए हुआ भूमि पूजन समारोह

अयोध्या। बच्चे देश का भविष्य हैं। अगर बच्चों को बेहतर शिक्षा मिले तो इससे उनका सम्पूर्ण विकास होगा और देश का भविष्य संवरेगा। इस उद्देश्य को सार्थक करने के लिए महर्षि वेद विज्ञान विद्यापीठ द्वारा नि:शुल्क महर्षि विद्या मंदिर की स्थापना की जा रही है। जल्द ही इसका संचालन शुरू होगा। यहाँ बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा दी जायेगी। नि:शुल्क महर्षि विद्या मंदिर की स्थापना के लिए महर्षि रामायण विद्यापीठ के अध्यक्ष श्री अजय प्रकाश श्रीवास्तव की अध्यक्षता में खाले का पुरवा में भूमि पूजन समारोह का आयोजन किया गया। समारोह का संयोजन समाज सेवी श्री विकास श्रीवास्तव ने किया।

खाले का पुरवा में भूमि पूजन समारोह में पूजा करते महर्षि रामायण विद्यापीठ के अध्यक्ष अजय प्रकाश श्रीवास्तव

नि:शुल्क शिक्षा के साथ भोजन और रहने की भी सुविधा

इस भव्य भूमि पूजन समारोह के प्रारंभ में सुबह सुन्दरकाण्ड पाठ किया गया। इसके बाद मुख्य अतिथि आईजी परिक्षेत्र श्री केपी सिंह, एसएसपी श्री शैलेश पाण्डेय, बीकापुर विधायक डॉ. अमित सिंह चौहान और जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री आलोक सिंह द्वारा संयुक्त रूप से पूजा अर्चना की गई।

महर्षि रामायण विद्यापीठ के अध्यक्ष श्री अजय प्रकाश श्रीवास्तव ने कहा कि शिक्षा सभी के लिए बहुत जरूरी है। इस विद्यालय की स्थापना से आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने में मदद मिलेगी। ऐसे सभी बच्चे जो फीस नहीं दे सकते हैं वह सभी यहाँ पढ़ाई कर सकेंगे। यहाँ उच्च स्तर की शिक्षा के द्वारा बच्चों का भविष्य निर्माण किया जाएगा। अभी यह विद्यालय कक्षा एक से आठ तक रहेगा लेकिन आगे इसे इंटर तक किया जायेगा।

समाज सेवी श्री विकास श्रीवास्तव ने बताया कि शुरुआत में कक्षा एक से आठ तक की कक्षाएं संचालित होंगी। इनमें एक हजार विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण करेंगे। बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा दी जायेगी। भोजन से लेकर रहने तक की सुविधा मिलेगी। इसका निर्माण कार्य शनिवार से शुरू हो गया। इसमें अभी 16 कमरे, एक सभागार, खेल का मैदान और प्रसाधन आदि सुविधाएं होंगी। अगले सत्र से पढ़ाई शुरू हो जायेगी।

महर्षि महेश योगी का अयोध्या से गहरा नाता

उन्होंने कहा कि महर्षि महेश योगी का अयोध्या से गहरा नाता रहा है। वे अयोध्या को विश्व की राजधानी बनाना चाहते थे। अयोध्या में स्थापित कई प्रकल्प उनके गौरवपूर्ण विरासत के गवाह हैं। भूमि पूजन के अवसर पर सीओ रुदौली राजेश तिवारी, श्रद्धानंद श्रीवास्तव, शैलेन्द्र मोहन मिश्र, सालिग्राम मिश्र सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *