भारतीय महिला अफसर ने बेनकाब कर दिया पाकिस्तान का झूठ, दुनिया के सामने कश्मीर पर बोलती बंद

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान का झूठ बेनकाब हो गया है। इमरान को जम्मू और कश्मीर वाले राग पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को मुंह तोड़ जवाब देते हुए उनके झूठ की कलई खोल दी। संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत की तरफ से फर्स्ट सेक्रेट्री स्नेहा दुबे ने साफ़ शब्दों में कहा कि पाकिस्तान ही वह मुल्क है, जिसने कुख्यात आतंकी ओसामा बिन लादेन को पनाह दी थी। पाकिस्तान आग से लड़ने वाले के भेष में आग लगाने वाला मुल्क है।

यह भी पढ़ें- चीनी ऐप्स पर पीएम मोदी का कड़ा रुख, QUAD बैठक में भारत के साथ आये अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया

स्नेहा दुबे ने जमकर पाकिस्तान की खबर ली

संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के संबोधन पर जवाब देने के अधिकार में भारत की तरफ से युवा भारतीय राजनयिक स्नेहा दुबे ने कहा, “विश्व भर में माना जाता है कि पाकिस्तान आतंकवादियों का खुले तौर पर समर्थन करता है और उन्हें हथियार मुहैया करवाता है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा प्रतिबंधित सर्वाधिक आतंकवादियों को रखने का घटिया रिकॉर्ड पाकिस्तान के पास है।”

स्नेहा दुबे के आगे पाकिस्तान की बोलती बंद

पाकिस्तान को कड़ा जवाब देते हुए स्नेहा दुबे ने कहा कि ओसामा बिन लादेन को पाकिस्तान में पनाह मिली। आज भी पाकिस्तानी नेतृत्व उसे ‘शहीद’ कहकर महिमामंडित करता है। पाकिस्तान आतंकवादियों को इस उम्मीद में पालता है कि वे केवल उसके पड़ोसियों को नुकसान पहुंचाएंगे। हम सुनते आ रहे हैं कि पाकिस्तान ‘‘आतंकवाद का शिकार’’ है। लेकिन यह आग से लड़ने वाले के भेष में आग लगाने वाला देश है।


पाकिस्तान के लिए बहुलवाद को समझना बहुत मुश्किल

स्नेहा दुबे ने कहा कि पाकिस्तान के लिए बहुलवाद को समझना बहुत मुश्किल है जो अपने अल्पसंख्यकों को सरकार में उच्च पदों की आकांक्षा रखने से रोकता है। समूचे केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और लद्दाख, भारत के अभिन्न और अविभाज्य हिस्से थे, हैं और रहेंगे।”

Also Read This- When bottle of black water brews unpopularity for Gauri Khan

झूठ बोलने वालों की सामूहिक तौर पर निंदा की जानी चाहिए

युवा भारतीय राजनयिक स्नेहा दुबे ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र में एक बार फिर कश्मीर का राग अलापने पर पाकिस्तान की निंदा करते हुए कहा, ‘‘इस तरह के बयान देने वालों और झूठ बोलने वालों की सामूहिक तौर पर निंदा की जानी चाहिए। लगातार झूठ बोलने वाले और ऐसी सोच वाले लोग दया के पात्र हैं। मैं इस मंच से स्पष्ट बात रख रही हूं।’’

यह है पूरा मामला

इमरान खान ने महासभा में पाक को अमेरिकी कृतघ्नता का और अंतरराष्ट्रीय दोहरेपन का पीड़ित दिखाने की कोशिश की थी। पाक पीएम का पूर्व रिकॉर्डेड भाषण शुक्रवार शाम प्रसारित हुआ था, जिसमें उन्होंने जलवायु परिवर्तन, वैश्विक इस्लामोफोबिया और “भ्रष्ट विशिष्ट वर्गों द्वारा विकासशील देशों की लूट” जैसे कई विषयों पर बात की थी। अपनी अंतिम बात को उन्होंने ईस्ट इंडिया कंपनी के भारत के साथ किए गए बर्ताव से जोड़ कर समझाने की कोशिश की।

इमरान ने मोदी की सरकार को ‘हिंदू राष्ट्रवादी सरकार’ और “फासीवादी” बताया था

भारत सरकार के लिए इमरान खान ने कठोर शब्दों का इस्तेमाल करते हुए एक बार फिर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार को ‘हिंदू राष्ट्रवादी सरकार’ और “फासीवादी” बताया। खान ने अमेरिका को लेकर गुस्सा और दुख जाहिर किया और उस पर पाकिस्तान व अफगानिस्तान दोनों का साथ छोड़ देने का आरोप लगाया। वह आगे बोले, “नई दिल्ली ने जम्मू-कश्मीर विवाद के अंतिम समाधान के लिए इसे शुरू कर दिया है।” उनका यह बयान 2019 में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के भारत सरकार के फैसले के संदर्भ में था। बता दें कि खान ने अपने संबोधन में पांच अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के भारत सरकार के फैसले और पाकिस्तान समर्थक अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के निधन के बारे में बात की थी।

2 thoughts on “भारतीय महिला अफसर ने बेनकाब कर दिया पाकिस्तान का झूठ, दुनिया के सामने कश्मीर पर बोलती बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *